Categories
निर्गुण भजन nirgun Bhajan

Bin dhoya dukh na mite,बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय

बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥

समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





देवी सुमराँ शारदा रै, बीरा मेरा हिरदै उजाला होय। गुरुवाँ री गम गैला मिल्या रे, बीरा मेरा आदु अस्तल जोय।बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





दाता चिणाई बावड़ी रै, ज्यामें नीर गगजल होय। कई कई हरिजन न्हा चल्या रै, कई गया है जमारो खोय।बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





रोईड़ी रंग फूटरो रै, जाराँ फूल अजब रंग होय। ऊबो मिखमी भोम मे रै, जांकी कलियन विणजै कोई॥बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





चंदन रो रंग सांवलो रै, जाँका मरम न जाने कोय। काट्या कंचन निपजै रै, ज्यामे महक सुगन्धी होय॥बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





तन का बनाले कापडा रै, सुरता की साबुन होय। सुरत शीला पर देया फटकाया रै, सतगुरु देसी धोय॥बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥





लिखमा भिखमी भौम में रै, ज्याँरो गाँव गया गम होय। तीजी चौकी लांधजा रै, चौथी में निर्भय होय॥बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥समझ मन माँयलारै, बीरा मेरा मैली चादर धोय। बिन धोयाँ दुख ना मिटै रै, बीरा मेरा तिरणा किस बिध होय॥

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s